होमरीजनल

सॉन्ग 'बॉडी डाउनलोड हो जाई..' ने मचाया तहलका.. देखें वीडियो

इस फिल्म के सभी गाने लोगों को पसंद आ रहे हैं. बैक टू बैक कई गाने हिट होने के बाद अब इस फिल्म का एक और गाना इंटरनेट पर आ चुका है. 'बॉडी डाउनलोड हो जाई...' गाना यूट्यूब पर अभी तक करीब 1 लाख लोगों ने सुन लिया है.

  | May 04, 2018 13:36 IST (नई दिल्ली)
Body Download Ho Jaai

फिल्म 'दुलहिन गंगा पार के' का गाना

Highlights

  • आ गया 'बॉडी डाउनलोड हो जाई...' सॉन्ग
  • 'दुलहिन गंगा पार के' फिल्म का गाना
  • खेसारी लाल है लीड एक्टर
भोजपुरी के सुपरस्टार एक्टर खेसारी लाल यादव की फिल्म 'दुलहिन गंगा पार के' के गाने इन दिनों यूट्यूब पर तहलका मचाये हुए हैं. इस फिल्म के सभी गाने लोगों को पसंद आ रहे हैं. बैक टू बैक कई गाने हिट होने के बाद अब इस फिल्म का एक और गाना इंटरनेट पर आ चुका है. 'बॉडी डाउनलोड हो जाई...' गाना यूट्यूब पर अभी तक करीब 1 लाख लोगों ने सुन लिया है. हालांकि इस फिल्म में हीरो खेसारी लाल ने इंदु सोनाली के साथ मिलकर यह गाना गाया है. गाने की लिरिक्स आजाद सिंह ने लिखा है जबकि स्टार कॉस्ट में काजल राघवानी, आम्रपाली दुबे और मनोज टाइगर भी है.
'निरहुआ' की पहली कमाई थी 500 रुपए, इस गाने से बने भोजपुरी इंडस्ट्री के सुपरस्टार... देखें VIDEO
फिल्म के डायरेक्टर असलम शेख ने हाल ही में फिल्म के हीरो खेसारी लाल को गुलाब का फूल देकर प्रपोज किया था. हालांकि असलम शेख ने ऐसा इसलिए किया, ताकि खेसारीलाल यादव फिल्‍म में अभिनेत्री आयुषी तिवारी को प्रपोज कर सकें. ये भोजपुरी फिल्म रिलीज होने से पहले काफी चर्चा में है.

देखें वीडियो - 

भोजपुरी बेल्ट यूपी और बिहार में इस फिल्म के गाने की काफी डिमांड है. वैसे भी खेसारी लाल इस वक्त भोजपुरी इंडस्ट्री के सुपरस्टार एक्टर के तौर पर पहचाने जाने लगे हैं. मालूम हो कि ब्रांड बिल्ला प्रोडक्शन और खेसारी एंटरटेन्मेंट प्रजेंट के बैनर तले बनी भोजपुरी फिल्‍म ‘दुलहिन गंगा पार के’ निर्माता सहित लेखक डॉ अरविंद आनंद हैं.
'दुपट्टा आसमानी...' ने बरपाया कहर, सुपरस्टार के डांस के लोग हुए दीवाने... देखें Video
खेसारीलाल यादव और काजल राघवानी की सुपर हिट जोड़ी और आम्रपाली दुबे स्‍पेशल तड़का 18 मई से दर्शक सिनेमाघरों में देख सकेंगे. फिल्‍म के सह निर्माता आर.एस.पांडेय और प्रचारक संजय भूषण पटियाला हैं. संगीतकार मधुकर आनंद हैं और गीत आज़ाद सिंह, पवन पांडेय और प्यारे लाल यादव ने लिखा है.
 

 
Advertisement
Advertisement